रविवार, मई 9, 2021

Latest Posts

नहटौर कोतवाल को किया जमीयत ने सम्मानित

नहटौर :- कोतवाल को सम्मानित करते जमीयत के पदाधिकारी
नहटौर। क्षेत्र में शान्ति और सद्भाव का माहौल स्थापि करने, फरियादियों को इंसाफ दिलाने,ब कोरोना संक्रमण से फैली महामारी में कोरोना यौद्धा की भूमिका निभाने और अपने मधुर व्यवहार से लोगों के दिलो में जगह बनाने वाले कोतवाल सत्यप्रकाश सिंह को जमीयत उलेमा हिन्द के प्रतिनिधि मण्डल ने थाने पहुंचकर फूल मालाओं से स्वागत करते हुए शाॅल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
मालूम हो कि नगर में सीएए व एनआरसी को लेकर पुलिस व जनता के बीच हिंसा हुई थी जिसमें तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक राजेश सौलंकी को हटाकर उनके स्थान पर जनता से बेहतर संवाद स्थापित करने वाले मृदभाषी सत्यप्रकाश सिंह को चार्ज सोंपा गया था। सत्यप्रकाश सिंह ने ऐसे समय में चार्ज संभाला था जब जनता और पुलिस के बीच लम्बी खाई थी तथा एक दूसरे को अपना दुश्मन समझ रहे थे। ऐसी परिस्थितियों में सत्यप्रकाश सिंह ने अपने कुशल कार्य और मधुर व्यवहार से लोगों के दिलो में अपनी जगह बनाने के साथ पुलिस और जनता के बीच की खाई को पाटने का काम किया। उन्होने नगर व ग्रामीण क्षेत्र में शान्ति और सद्भाव का माहौल स्थापित करने के साथ फरियादियों को त्वरित इंसाफ दिलाया। कोरोना संक्रमण के कारण लगाये गये लाॅकडाउन के दौरान कोतवाल सत्यप्रकाश सिंह ने रात दिन मेहनत कर लोगों को कोरोना संक्रमण के सम्बन्ध में जागरूक करने का काम करते हुए कोरोना यौद्धा की भूमिका अदा की। मधुर व्यवहार और जनता के बीच पुलिस की छवि में सुधार करने तथा कोरोना यौद्धा की भूमिका निभाने पर जमीयत उलेमा हिन्द ने कोतवाल सत्यप्रकाश सिंह का सम्मान करने का फैसला किया। मंगलवार को जमीयत उलेमा हिन्द के जिला नायब सदर कारी अब्दुल रजाक, नगर सदर कारी मौ0 हारून, कारी मौ0 गयासुद्दीन, मौलाना नसीम अहमद, मौलाना तय्यब कासमी, कारी रियाजुद्दीन आदि थाने पहुंचे और उन्होने कोतवाल सत्यप्रकाश सिंह का फूल मालाओं से स्वागत किया तथा शाॅल व कोरोना यौद्धा का प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर कोतवाल सत्यप्रकाश सिंह ने कहा कि जमीयत उलेमा हिन्द ने जो सम्मान उन्हें दिया है वह उसे कभी नहीं भूलेंगे। कारी मौ0 हारून ने कहा कि आप जैसे कोतवाल की नगर को जरूरत थी और जब भी आपको जरूरत पड़ेगी जमीयत उलेमा हिन्द हर कदम आपके साथ खड़ी मिलेगी।

बाॅक्स
जमीयत से सम्मान मिलना गौरव की बात
कोतवाल सत्यप्रकाश सिंह की कार्यशैली से जमीयत उलेमा हिन्द बहुत प्रभावित है और पिछले 25 वर्षो में यह पहला मौका है जब जमीयत के पदाधिकारियों ने किसी अधिकारी के अच्छे कार्य को देखते हुए उन्हें सम्मान देने का काम किया। सत्यप्रकाश सिंह के लिए भी यह गौरव की बात है कि मुस्लिम समुदाय के सबसे बड़े संगठन जमीयत से वह सम्मानित हुए हैं क्योंकि जमीयत से हर किसी अधिकारी को सम्मान नहीं मिलता।

Latest Posts

Don't Miss