मंगलवार, जून 22, 2021

Latest Posts

सोना बेचने के नाम पर लूट करने वाले इंटर स्टेट गैंग के 5 सदस्य गिरफ्तार

बिजनौर। जमीन में दबा सोना सस्ते दामों पर बेचने के नाम पर लूटमार करने वाले इंटर स्टेट गैंग के 5 सदस्यों को गिरफ्तार करते हुए पुलिस ने लूट कल करने वाले इस गैंग का खुलासा किया है। पकड़े गए आरोपियों में दो हिस्ट्रीशीटर हैं जबकि 3 लोग अभी भी फरार हैं पुलिस ने इनसे भारी मात्रा में अवैध शस्त्र और सोने व चांदी जैसे पदार्थ को भी बरामद किया है।
पुलिस अधीक्षक डॉ धर्मवीर सिंह ने सोमवार को पुलिस लाइन सभागार में आयोजित प्रेस वार्ता में खुलासा करते हुए बताया कि 8 अप्रैल को थाना हल्दौर में एक साजिश के तहत स्कॉर्पियो में सवार अबरार, नाजिम उर्फ अज़ीम, सद्दाम, रिजवान, व फकरु ने तमंचे के बल पर सुमित वर्मा पुत्र विनोद वर्मा निवासी मोहल्ला रईसान थाना हल्दौर व उसके भाई अमित के साथ नूरपुर के पास धामपुर रोड पर 5 लाख रुपये छीनने का प्रयास व दोनों भाइयों के साथ मारपीट की थी । उनके शोर मचाने पर यह सभी आरोपी कार में सवार होकर भाग गएथे। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ थाना नूरपुर में मुकदमा दर्ज किया था। 11 अप्रैल को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर नूरपुर धामपुर रोड पर उत्सव गार्डन के सामने घटना में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया गया जिनके द्वारा पुलिस टीम पर फायर भी किया गया पुलिस टीम द्वारा अपना बचाव करते हुए घेराबंदी की गई और सागर ,अबरार, रिजवान, नाजिम व सद्दाम को घटना में प्रयुक्त गाड़ी अवैध शस्त्र के साथ गिरफ्तार कर लिया गया पकड़े गए सभी आरोपियों ने बताया कि हम सभी लोग सस्ती दरों पर सोना व चांदी बेचने का झांसा देकर सोना चांदी खरीदने वाले लोगों को शिकार बनाते हैं और सोना चांदी खरीदने बेचने का बहाना करके रुपए लेकर सुनसान जगह पर बुलाते हैं और फिर वहां पर लूट कर लेते हैं इसी क्रम में 8 अप्रैल को उन्होंने सुमित वर्मा को 5 लाख रुपये सोना खरीदने के नाम पर लेकर धामपुर रोड पर बुलाया था रुपए लूटने की कोशिश की गई लेकिन राहगीरों की भीड़ हो जाने के कारण वह घटना को अंजाम नहीं दे सके और मौके से फरार हो गए आरोपियों ने बताया कि यह सभी लोग सूरत गुजरात ,आंध्रप्रदेश, मुंबई ,तेलंगाना व बेंगलुरु में जाकर पॉश कॉलोनियों में रेकी कर बंद पड़े मकानों का ताला तोड़कर जेवर नगदी आदि चुरा लेते हैं करीब 2 माह पहले नाजिम रिजवान व सद्दाम ने अपने साथियों रहमत व अजय निवासी नालासोपारा मुंबई के साथ मिलकर सूरत में प्रेसिडेंट कॉलोनी में नीलकमल के सामने रिद्धि सिद्धि फ्लैट में चोरी की थी जिसमें 200 ग्राम सोना 600 ग्राम चांदी 40 हजार रुपये मिले थे जिन्हें इन लोगों ने बराबर बराबर बांट लिए। इस मामले में सूरत में भी मुकदमा दर्ज कराया गया था थाना कोतवाली देहात और अबरार थाना धामपुर के हिस्ट्रीशीटर व राहुल उर्फ सद्दाम थाना मण्डावर का 15 हजार के इनामी गैंगस्टर अपराधी है जो फरार चल रहा था। सुमित के साथ हुई घटना के संबंध में बताया जाता है कि सुमित की दुकान के पास मयूर ज्वेलर्स पर काम करने वाले सागर निवासी मोहल्ला खेड़ा हलदौर द्वारा साजिश के तहत उससे जमीन में दबा सोना सस्ते दर पर खरीदने के लिए कार्तिक निवासी ग्राम बिसाठ थाना हल्दौर ने आकार उनसे संपर्क कराया गया और 25 हजार रुपए प्रति किलो सोना देने की बात कही और कहा कि सोने की डिलीवरी अबरार , रिजवान, नाजिम, सद्दाम व फकरू उर्फ मामा द्वारा की जाएगी ।सोना देने के लिए उन्होंने सुमित को 8 अप्रैल को नूरपुर के पास धामपुर रोड पर बुलाया था जो कि 5 लाख रुपये लेकर वहां पहुंचा था। जब इन लोगों ने लूट का प्रयास किया तो सुमित और उसके भाई अमित द्वारा शोर मचाने पर यह आरोपी फरार हो गए। पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए उनके पास से चार तमंचे, एक चाकू, एक कार और 7 डिब्बे प्लास्टिक जिसमें पीली धातु को सफेद धातु के आभूषण जिनके जिनका वजन करीब 634 ग्राम है बरामद किया है। कार्तिक फकरु व आकाश अभी भी फरार हैं।
पुलिस अधीक्षक ने इस गैंग का खुलासा करने वाली टीम को ₹25000 का इनाम देने की घोषणा की है

Latest Posts

Don't Miss