मंगलवार, जुलाई 27, 2021

Latest Posts

बड़े बेआबरू होकर थाने से निकले नेताजी

दिलशाद अल्वी

किरतपुर। भारतीय जनता पार्टी के एक मुस्लिम नेता को गौकशी करने वाले एक युवक की सिफारिश करना उस समय महंगा पड़ गया जब थाने में बैठे भाजपा नेताओं व एसएचओ ने उसे खरी खोटी सुनाते हुए खूब हड़काया।

विवरण के अनुसार क्षेत्र के एक ग्राम निवासी एक युवक बुधवार की दोपहर थाने पहुंचा और एसएचओ राजकुमार शर्मा को अपना परिचय देते हुए बताया कि वह दिल्ली प्रदेश भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ का मंत्री है उसके गांव में गौकशी के नाम पर जिस युवक को पुलिस परेशान कर रही है वह बेक़सूर है नेता जी की यह बात सुनकर एसएचओ ने उसे चेतावनी देते हुए कहा कि गौकशी के मामले में किसी की भी सिफारिश करने मेरे पास मत आ जाना नही तो शक के दायरे में आप भी आएंगे। एसएचओ की यह दो टूक चेतावनी सुनकर भी नेता जी के तेवर ढीले नही पड़े और वह लगातार सिफारिश करते रहे। वहां बैठे भारतीय जनता पार्टी व हिन्दू युवा वाहिनी के नेताओ ने भी उसे लगे हाथों ले लिया और कहा कि भविष्य में गले में बीजेपी का पट्टा डाल कर मत घूमना और थाने के बाहर अपनी गाड़ी खड़ी कर के रोब गालिब मत करना और भूल कर भी कभी गौकशी करने वालो की सिफारिश लेकर थाने मत आजाना। उन्होंने ऐसे तथाकथित नेताओ को वार्निंग देते हुए कहा कि वह पार्टी की नीतियों का दुरुपयोग कतई न करे उन्होंने आगे कहा कि ऐसे नेताओं के क्रिया कलापों के कारण ही पार्टी की छवि धूमिल हो रही है। नेताजी ने अपने पद की पुष्टि कराने के लिए अपने उच्च पदाधिकारियों को फोन मिलाया परन्तु किसी ने भी उनका फोन रिसीव नही किया। इतना सब कुछ होने के बाद नेताजी बड़े बेआबरू होकर थाने से खिसक लिए।

Latest Posts

Don't Miss